नेचुरल ब्लैक

गोदरेज एक्सपर्ट ओरिजनल

हमारा पावडर प्री-मेज़र्ड पैकेट यानी पहले से तय माप में आता है। मतलब ये कि अब माप-तौल का झंझट भी ख़त्म! हर चीज़ पहले से ही एकदम पर्फ़ेक्ट माप में। आपको अब करना सिर्फ़ इतना है – इसे मिलाएं, लगाएं और धो लें। है न बेहद आसान!

एक्सपर्ट फीचर

अमोनिया रहित और सुरक्षित

अमोनिया के बिना कलर आपके बालों को उतना
ज्यादा ब्लीच या लाइट नहीं करता जितना अमोनिया युक्त कलर करता है। ये आपके बालों के अमीनो एसिड का संतुलन बनाए रखता है। गोदरेज एक्‍सपर्ट हेअर कलर का रेंज आपके बालों को मज़बूत बनाते हैं, इस्तेमाल करने में एकदम सुरक्षित* हैं और लम्बे समय तक आपके बालों के खूबसूरत शेड्स को बनाए रखते हैं।

अमोनिया रहित और सुरक्षित

अमोनिया के बिना कलर आपके बालों को उतना
ज्यादा ब्लीच या लाइट नहीं करता जितना अमोनिया युक्त कलर करता है। ये आपके बालों के अमीनो एसिड का संतुलन बनाए रखता है। गोदरेज एक्‍सपर्ट हेअर कलर का रेंज आपके बालों को मज़बूत बनाते हैं, इस्तेमाल करने में एकदम सुरक्षित* हैं और लम्बे समय तक आपके बालों के खूबसूरत शेड्स को बनाए रखते हैं।

बस 10 मिनट में हो जाए!

गोदरेज एक्‍सपर्ट पावडर हेअर कलर आपको देता है खूबसूरत शेड्स वो भी काफी तेज़ी से! 10 मिनट में सारा काम ख़त्म! जब इसका जैल फॉर्मूलेशन कलरिंग को बेहद सरल बना देता है तो क्या ज़रूरत कि आप अपने बालों को कलर करने के लिये पहले से प्लान करें, अपना मन बनाएं और फिर अपने महत्वपूर्ण दिन के कई घंटे खराब करें। इस जैल कलर में बाकी हेअर कलर की तरह कलर लगाने के बाद आपको घंटों इंतज़ार करने की ज़रूरत नहीं। जैल कलर लगाया और बस 10 मिनट के लिये छोड़ दिया। ये धोने पर बड़ी आसानी से बालों से निकल जाता है। बालों को कलर करना इतना आसान हो गया है कि यकीन ही नहीं होता!

बस 10 मिनट में हो जाए!

गोदरेज एक्‍सपर्ट पावडर हेअर कलर आपको देता है खूबसूरत शेड्स वो भी काफी तेज़ी से! 10 मिनट में सारा काम ख़त्म! जब इसका जैल फॉर्मूलेशन कलरिंग को बेहद सरल बना देता है तो क्या ज़रूरत कि आप अपने बालों को कलर करने के लिये पहले से प्लान करें, अपना मन बनाएं और फिर अपने महत्वपूर्ण दिन के कई घंटे खराब करें। इस जैल कलर में बाकी हेअर कलर की तरह कलर लगाने के बाद आपको घंटों इंतज़ार करने की ज़रूरत नहीं। जैल कलर लगाया और बस 10 मिनट के लिये छोड़ दिया। ये धोने पर बड़ी आसानी से बालों से निकल जाता है। बालों को कलर करना इतना आसान हो गया है कि यकीन ही नहीं होता!

कैसे इस्तेमाल करें

  • स्टेप - 1

    त्वचा की अतिसंवेदनशीलता की जांच करें

    इस उत्पाद के प्रत्येक इस्तेमाल के 48 घंटे पहले, त्वचा के छोटे हिस्से पर थोड़ा सा कलर लगाकर अतिसंवेदनशीलता की जांच करें।

  • स्टेप - 2

    त्वचा को दाग मुक्त रखें

    त्वचा से दाग हटाने के लिए पेट्रोलियम जेली या तेल लगाएं

  • स्टेप - 3

    कलर तैयार करें

    एक नॉन-मेटालिक कटोरे में पूरा पाउडर डालें और 25 ml (5 चम्मच) पानी के साथ एक नॉन-मेटालिक चम्मच से मिक्स करें।

  • स्टेप - 4

    कैसे लगाएं

    इस मिश्रण को अपने बालों पर लगाएं।

  • स्टेप - 5

    10 मिनट के लिए छोड़ दें

    इसे 10 मिनट के लिए बालों में लगाकर छोड़ दें और उसके बाद बालों को पानी से अच्छी तरह धोएं।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

क्या डाई और कलर अलग होते हैं?

तकनीकी रूप से ‘डाई’ और ‘कलर’ का मतलब एक ही होता है। इन दोनों शब्दों को एक-दूसरे के स्थान पर इस्तेमाल किया जा सकता है।

मुझे अतिसंवेदनशीलता की जांच करने की ज़रूरत क्यों है?

संवेदनशील त्वचा वाले लोगों को कुछ खास प्रकार के खाद्य पदार्थ, फ़ाइबर, धूल और हेयर कलर में मौजूद कुछ सामग्रियों से एलर्जी हो सकती है। एक हेयर कलर के इस्तेमाल से पहले यह जानना हमेशा बेहतर रहता है कि यह आपको सूट करेगा या नहीं।

त्वचा की अतिसंवेदनशीलता की जांच, हर बार बालों पर कलर लगाने के 48 घंटे पहले की जानी चाहिए। इसके लिए आपको सिर्फ पैक पर लिखे दिशानिर्देशों का पालन करना है। अगर आपको कलरेंट्स से एलर्जी है, तो यह त्वचा पर खुजली, लाल होने, सूजन जैसे कई प्रभावों के रूप में सामने आती है। ऐसी स्थिति में इन कलरेंट्स का इस्तेमाल ना करना सबसे बेहतर होगा।

मैं अपनी त्वचा और स्कैल्प से कलर के दाग कैसे हटाऊं?

हेयर कलर के इस्तेमाल से पहले अपनी हेयर लाइन और कानों के नजदीक पेट्रोलियम जेली या तेल लगाएं। इससे आपकी त्वचा को कलर से सुरक्षित रखने में मदद मिलेगी। कलर लगाने के दौरान दस्ताने पहनना बेहद ज़रूरी है। कलर लगाते समय हेयर कलरिंग ब्रश का इस्तेमाल करने से कलर आपके सिर की त्वचा को नहीं छुएगा।

अगर कलर आपकी त्वचा के संपर्क में आ जाए तो उसे तुरंत साबुन, शैंपू या कॉटन से साफ करें। अगर फिर भी दाग उभर जाएं, तो उन्हें साबुन या शैंपू से अच्छी तरह धोने के बाद एंटीसेप्टिक लिक्विड लगाकर पोंछ लें।

त्वचा की अतिसंवेदनशीलता की जांच क्यों महत्वपूर्ण है?

दुनिया भर में लाखों लोग नियमित और सुरक्षित रूप से हेयर कलर का उपयोग करते हैं। हालांकि, बेहद कम मामले ऐसे होते हैं जिनमें हेयर कलर उत्पादों से एलर्जी किसी भी समय और जीवन के किसी भी दौर में सामने आ सकती है। ऐसा खाने की कई सामान्य चीज़ों के साथ भी होता है, जैसे कि दाल, दूध, बैंगन, मछली, केकड़े आदि। इसलिए हर बार बालों पर कलर लगाने से पहले एहतियात के रूप में त्वचा की अतिसंवेदनशीलता जांच करने की सलाह दी जाती है। हेयर कलरिंग को खुशनुमा और सुरक्षित प्रक्रिया बनाने के लिए नियमित कलर करने वालों को भी यह जांच ज़रूर करनी चाहिए। पैक पर सभी सुरक्षा निर्देशों और बरती जाने वाली सावधानियां विस्तार से बताई गई है।

त्वचा की अतिसंवेदनशीलता जांच बालों में कलर लगाने के 48 घंटे पहले की जानी चाहिए। जांच के लिए, कान के पीछे की छोटी सी जगह या कलाई के अंदरूनी भाग की त्वचा को साबुन और पानी या एल्कोहॉल से साफ करें। एक चुटकी पाउडर को 1 या 2 बूंद पानी के साथ मिक्स करें और पहले से साफ की गई त्वचा पर लगाकर सूखने के लिए छोड़ दें। उत्पाद को 48 घंटों के लिए लगाकर रखें और ध्यान दें। अगर जांच के स्थान पर लाल होने, जलन, खुजली या सूजन जैसा कोई प्रभाव दिखाई नहीं देता तो इसका मतलब है कि हेयर कलरिंग उत्पाद आपके लिए पूरी तरह सुरक्षित है।

हेयर कलर्स में अमोनिया की क्या भूमिका होती है?

एक हेयर कलर में मौजूद अमोनिया बालों को ब्लीच करता है और उन्हें मोटा बना देता है ताकि वो कलर को अच्छी तरह सोख लें। यही वजह है कि अधिकांश हेयर कलर्स में अमोनिया होता है। अमोनिया बालों के लिए काफी कठोर होता है। न केवल इसकी गंध खराब होती है बल्कि यह बालों को नुकसान भी पहुंचा सकता है। अमोनिया के कठोर रासायनिक दुष्प्रभाव, बालों की गहराई में मौजूद प्रोटीन तक अपना प्रभाव छोड़ते हैं। यही वजह कि जितनी बार आप अमोनिया वाले हेयर कलर का इस्तेमाल करते हैं, वो आपके बालों को उतना ही बेजान, सख्त और कमज़ोर बना देता है। यह आपकी आंखों और नाक में जलन भी पैदा कर सकता है।

क्या आधे पाउच का इस्तेमाल कर बाकी बचे पाउच को बाद में लगाने लिए रखा जा सकता है?

पाउच में मौजूद सामग्री को सिर्फ एक बार अच्छी तरह कलरिंग सुनिश्चित करने के लिए पैक किया जाता है। हमारी सलाह है कि सही मिश्रण तैयार करने के लिए पूरी सामग्री का इस्तेमाल करें। साथ ही, हवा के संपर्क में आने के बाद कलरेंट धीरे-धीरे बालों को रंगने की क्षमता खोने लगता है। इसलिए दोबारा इस्तेमाल करना ठीक नहीं होगा।

मुझे अपने बालों को कितनी बार कलर करना चाहिए?

आपके बालों के बढ़ने के साथ ही उनकी जड़ों पर सफेदी दिखने लगती है। अधिकांश लोग अपने बालों को आम तौर पर 4 से 6 हफ़्तों में कलर करते हैं। लेकिन यह कई दूसरी चीज़ों पर भी निर्भर करता है, जैसे बालों का बढ़ना, इन्हें धोने का तरीका और कलर के काम करने का तरीका वगैरह। सरल शब्दों में कहें तो जब आपको सिर के आगे के हिस्से में सफेद बाल दिखने लगें, तो समझिए कलर करने का वक्त आ गया है।

एक्सपर्ट ब्लॉग

ट्रिक्स एवं टिप्स

Busting Hair Colouring Myths

Thinking about colouring your hair but can’t decide if it is the right step? Are a million questions plaguing your mind when all you want is a change in look? After reading this, all you will have to do is choose a fabulous shade from…

हमारा टीवी विज्ञापन देखें